फ़ुटबॉल इंस्टेंट इंडेक्स

फ़ुटबॉल इंस्टेंट इंडेक्स

time:2021-10-22 06:21:57 कैट ने ई-वाणिज्य से जुड़े मुद्दों को उठाने के लिए मोदी से वक्त मांगा Views:4591

विश्व की शीर्ष तीन फ़ुटबॉल सट्टेबाज़ी कंपनियाँ फ़ुटबॉल इंस्टेंट इंडेक्स betway गेम,fun88 que es,lovebet 5 यूरो गुटशेन,lovebet मैं रजिस्टर करना चाहता हूँ,lovebet नियम और शर्तें,3 रील स्लॉट जैकपॉट,बैकारेट ऐप असली पैसा,बैकारेट विदेशी जुआ,बेस्ट ऑफ़ फाइव फिंगर डेथ पंच youtube,बुकमेकर रेटिंग रैंकिंग,कैसीनो लिंकन सिटी,शतरंज एओ विवो,क्रिकेट पुस्तक अर्थ,क्रिकेट कल विजेता,यूरोपीय कप खाता URL,फ़ुटबॉल सट्टेबाजी नेटवर्क रीयल-टाइम ऑड्स,जी स्पोर्ट्स हिम्मतनगर,oz . के जादूगर में खुश किसान,मैं पोकर चिप्स,जैकेट ब्लेज़र,ला लीगा शेड्यूल,लाइव क्रिकेट बेटिंग,लॉटरी खमेर,लूडो ज़ौकी,ऑनलाइन कैसीनो एजेंट,ऑनलाइन गेम टेककेन 3,लकीलैंड जैसे ऑनलाइन स्लॉट,पोकर १० हाथपी,पोकर काम,रूले नंबर जनरेटर,रमी डोमेन,रश ग्रीन फिशिंग,सेकंड में बुक हो रहे स्लॉट,खेल पजामा,तीन पट्टी सोना,नवीनतम फुटबॉल सट्टेबाजी साइट,आभासी क्रिकेट दुबई,वाइल्डज़ गेल्ड औज़हलेन,lottery का अर्थ,करीना फोटो,क्रिकेट विकेट कीपर स्टम्पिंग नियम,छोटू लॉटरी,पारी मैच लॉगिन,बरसात यार,रमी लाल,स्टेटस नरेगा, .कैट ने ई-वाणिज्य से जुड़े मुद्दों को उठाने के लिए मोदी से वक्त मांगा

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) व्यापारियों के संगठन कैट ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने देश में ई-वाणिज्य और खुदरा व्यापार के वर्तमान हालात पर चर्चा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से वक्त मांगा है।

कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री को लिखे एक पत्र में देश के ई-कॉमर्स व्यवसाय के मौजूदा परिदृश्य में उनके हस्तक्षेप की मांग करते हुए दावा किया कि ‘‘प्रमुख वैश्विक ई-वाणिज्य कंपनियां 2016 से देश के कानूनों और नियमों का उल्लंघन कर रही हैं।’’

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भरतिया और महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने कहा, ‘‘ऐसा लगता है कि देश के नियम इन कंपनियों के आगे झुक गए हैं, जो कानून के किसी भी डर के बिना ई-वाणिज्य व्यवसाय में उनकी मनमानी की मूल वजह है। यह अफसोस की बात है कि उन पर लगाम लगाने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है।’’

कैट ने पत्र में कहा कि यह और भी खेदजनक है कि भरोसेमंद सबूत के साथ शिकायत करने के बाद भी इसकी रोकथाम के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game
Artificial intelligence

Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game

15 mins read
MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?
Investing

MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?

10 mins read
Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing
Artificial intelligence

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing

11 mins read

जो लोग इन कीमती धातुओं को नहीं खरीद सकते, वे इस साल दो दिन मनाए जा रहे धनतेरस त्योहार के मौके पर स्टील के बर्तन खरीद रहे हैं.नयी दिल्ली 21 अक्टूबर (भाषा) पूंजी बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने बृहस्पतिवार को निवेश सलाहकारों से डिजिटल सोने में कारोबारी गतिविधियों में शामिल होने से मना किया सेबी ने पाया था कि कुछ पंजीकृत निवेश सलाहकार डिजिटल सोना समेत अनियमित उत्पादों को खरीदने, बेचने या कारोबार करने के लिए एक मंच प्रदान कर रहे है। इसके बाद उसकी तरफ से यह बयान आया है। नियामक ने एक बयान में कहा, "निवेश सलाहकारों द्वारा डिजिटल सोने में लेनदेन सहित ऐसी अनियमित गतिविधियों में शामिल होना सेबी अधिनियम, 1992 के प्रावधानों तथा सेबी (निवेश सलाहकार) विनियमन, 2013 केधनतेरस पर इन 6 चीजों को खरीदना होता है शुभ

पिछले सप्ताह फोर्ड इंडिया ने एक जनवरी से अपने विभिन्न मॉडलों की कीमतों में बढ़ोतरी की घोषणा की थी.2020 में कई बड़े स्‍मार्टफोन ट्रेंड देखने को मिले हैं. इनमें 100x जूम, 65 वॉट चार्जिंग, लिडार कैमरा, डॉल्‍बी विजन वीडियो, 7000 एमएएच बैटरी के अलावा कई और शामिल हैं. क्‍या आप जानना चाहेंगे कि भारत में इन फीचरों की शुरुआत किसने की है और ऐसे स्‍मार्टफोन ब्रांडों की कीमत कितनी है? यहां हम आपको इनके बारे में बता रहे हैं.एयर प्यूरिफायर खरीदने से पहले इन 6 बातों का रखें ध्‍यान, होगा फायदा

इस्लामाबाद, 21 अक्टूबर (भाषा) पाकिस्तान वित्तीय कार्रवाई कार्यबल (एफएटीएफ) की निगरानी सूची में बना रहेगा। वह तब तक इस सूची में शामिल रहेगा जब तक कि वह साबित नहीं कर देता कि जमात-उद-दावा प्रमुख हाफिज सईद और जैश-ए-मोहम्मद के संस्थापक मसूद अजहर के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है जिसे संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक आतंकवादियों के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। वैश्विक धन शोधन-निरोधक और आतंकवादियों के वित्तपोषण पर नजर रखने वाली संस्था एफएटीएफ ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। यह निर्णय पेरिस स्थित एफएटीएफ की ‘ऑनलाइन’ बैठक के बाद आया। बैठककीमतों में यह बढ़ोतरी विभिन्‍न मॉडलों में अलग-अलग होगी. यह वास्‍तव में कितनी होगी, इस बारे में जल्‍द ही डीलरों को बताया जाएगा.फोर्ड की कारें होंगी महंगी, जनवरी से बढ़ेंगे दाम

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
188bet एक्सओ सो

पहले ही कार बनाने वाली कई कंपनियां अपने-अपने मॉडलों के दाम बढ़ाने का एलान कर चुकी हैं. ये जनवरी से गाड़‍ियों के दाम बढ़ाएंगी. इन कंपनियों में मारुति सुजुकी, फोर्ड, महिंद्रा एंड महिंद्रा और रेनॉ शामिल हैं.

lovebet पार्टनर

धनतेरस और दिवाली के दिन सोना खरीदना शुभ माना जाता है.

betway आपकी हिस्सेदारी से अधिक है

जो लोग इन कीमती धातुओं को नहीं खरीद सकते, वे इस साल दो दिन मनाए जा रहे धनतेरस त्योहार के मौके पर स्टील के बर्तन खरीद रहे हैं.

स्टैंड-अलोन गेमिंग डाउनलोड

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) गूगल ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह एक जनवरी 2022 से गूगल प्ले पर सदस्यता के लिए कमीशन को 30 प्रतिशत से घटाकर 15 प्रतिशत कर देगी। पूर्व में कंपनियों ने ऐप्पल और गूगल द्वारा ऐप स्टोर पर 30 प्रतिशत कमीशन लेने की कड़ी आलोचना की है। गूगल ने एक ब्लॉगपोस्ट में कहा, ‘‘एक जनवरी 2022 से शुरू होने वाली सदस्यता की पेशकश करने वाले डेवलपर्स का समर्थन करने के लिए हम गूगल प्ले पर सभी सदस्यता के लिए सेवा शुल्क 30 प्रतिशत से घटाकर 15 प्रतिशत कर रहे हैं।’’ गूगल ने कहा कि डिजिटल सदस्यता

लॉटरी नंबर 8899

युवा खासतौर से डायमंड ज्‍वेलरी खरीदने में दिलचस्‍पी लेते हैं. 10,000-20,000 रुपये की रेंज में लो प्राइस डायमंड ज्‍वेलरी के खासतौर से अच्‍छा करने की उम्‍मीद है.

संबंधित जानकारी
रूले वीडियो ऐप

नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) सेबी ने बृहस्पतिवार को कमोडिटी डेरिवेटिव ब्रोकर के रूप में पंजीकरण के लिए इंवेस्टस्मार्ट कमोडिटीज लिमिटेड के आवेदन को खारिज कर दिया। सेबी ने कहा कि आवेदन ‘‘उचित’’ मानदंडों को पूरा करने में विफल रहा, क्योंकि उसने अपने ग्राहकों को बंद हो चुके नेशनल स्पॉट एक्सचेंज लिमिटेड (एनएसईएल) पर अनधिकृत युग्मित सौदों में कारोबार की सुविधा दी। सेबी ने कहा कि इंवेस्टस्मार्ट कमोडिटीज ने युग्मित अनुबंधों के लिए एक मंच मुहैया करके अपने ग्राहकों को एक ऐसे उत्पाद के कारोबार में शामिल किया, जिसे नियामक की मंजूरी नहीं मिली थी, जिससे उसकी पंजीकृत ब्रोकर के

गरम जानकारी