नियम अपवाद

नियम अपवाद

time:2021-10-22 04:30:45 अगले वित्त वर्ष की पहली तिमाही में वाहनों की कीमत बढ़ा सकती है महिंद्रा Views:4591

फुटबॉल 50 रुपये नियम अपवाद betway आवेदन,fun88 भारत समीक्षा,lovebet 365 भविष्यवाणी,lovebet एच ब्राउन,lovebet सेंट टाइघेस हिल, लॉटरी परिणाम,बैकारेट ए रेन्नेस,बैकारेट फकीर कविता,सर्वश्रेष्ठ पांच शब्द उद्धरण,बोनस विजेता 2021,कैसीनो तीव्र,शतरंज 700 एलो,क्रिकेट की गेंदें,क्रिकेट बनाम टिड्डा,ई-स्पोर्ट्स वास्को,फुटबॉल एजेंसी नेटवर्क,मुफ़्त ऑनलाइन तिमाही स्लॉट,खुश किसान बोन्साई,फुटबॉल की बाधा कैसे देखें,क्या ऑनलाइन जुआ है,खेलप्ले रम्मी मोबाइल ऐप,लाइव कैसीनो ट्रैकर,फ्लोरिडा में लॉटरी,लूडो तेज़,ऑनलाइन बेटिंग फोरम,ऑनलाइन गेम के नाम,ऑनलाइन स्लॉट जुआ,बिंदु रम्मी नाक,पोकर विचरण कैलकुलेटर,रूले जेएस,रम्मी a23,रम्मीकल्चर नियम और शर्तें,स्लॉट ऐप्स,स्पोर्ट्स लॉटरी स्टोर आंतरिक सजावट का नक्शा,तीन पत्ती पृष्ठभूमि,फुटबॉल युद्ध,वीडियो फुटबॉल 2019,यूरोपीय जुआ कौन करता है?,cricket माहिती,करीना इंस्टाग्राम,क्रिकेट पिच की लम्बाई,चेस प्ले,धनलक्ष्मी लॉटरी,बरसात त्यौहार,रमी जीतने का टोटका,स्टेटस टिक तोक वीडियो डाउनलोड, .अगले वित्त वर्ष की पहली तिमाही में वाहनों की कीमत बढ़ा सकती है महिंद्रा

महिंद्रा एंड महिंद्रा और उसकी सहयोगी कंपनी महिंद्रा व्हीकल मैन्युफैक्चरिंग का दिसंबर तिमाही में मुनाफा 40 फीसदी बढ़कर 531 करोड़ रुपये रहा.
नई दिल्ली: दिग्गज वाहन कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा ने शुक्रवार को संकेत दिए कि कमोडिटी के कीमतों में आई तेजी के चलते आने वाले कुछ महीनों में वह अपने वाहनों की कीमत बढ़ा सकती है.

कंपनी ने हाल ही में उत्तर अमेरिका के कामकाज में कई लोगों को नौकरी से बाहर किया है और संभव है कि कंपनी और भी लोगों को निकाल सकती है. हालांकि, कंपनी जल्द ही अपनी ऑफ-रोड कार रॉक्सोर लॉन्च करने वाली है.

महिंद्रा एंड महिंद्रा के कार्यकारी निदेशक- ऑटोमोटिव एंड फार्म सेक्टर, राजेश जेजुरीकर ने मीडिया को वर्चुल मोड के जरिए कहा, "हमने जनवरी में कीमतों में कुछ इजाफा किया है और यदि चीजें काबू में नहीं आई, तो अगले वित्त वर्ष की पहली तिमाही में हमें ऐसा दोबारा करना पड़ सकता है."

इसे भी पढ़ें: अगरतला से हावड़ा और सियालदाह के लिए विशेष किसान ट्रेन चलाएगा रेलवे

जेजुरीकर नतीजों के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे, जिसमें उनसे कमोडिटी की कीमतें बढ़ने के असर पर सवाल पूछा गया था. इसकी के जवाब में उन्होंन वाहनों की कीमतें बढ़ाने के संकेत दिए.

जेजुरीकर ने आगे कहा, "हम आंतरिक तरीके से कमोडिटी कीमतों में आई तेजी के असर को कम करने की कोशिश कर रहे हैं, जिसमें लागत की कीमत और निश्चित लाग को कम करने का प्रबंधन शामिल है. हमारे पर इस तरह की स्थिति आती है, तो हम कई तरह से इसका प्रबंधन करते हैं."

महिंद्रा एंड महिंद्रा और उसकी सहयोगी कंपनी महिंद्रा व्हीकल मैन्युफैक्चरिंग का दिसंबर तिमाही में मुनाफा 40 फीसदी बढ़कर 531 करोड़ रुपये रहा. दिसंबर तिमाही में महिंद्रा और उसकी सहयोगी कंपनी महिंद्रा व्हीकल मैन्युफैक्चरिंग का रेवेन्यू 16 फीसदी बढ़कर 14,057 करोड़ रुपये रहा.

इसे भी पढ़ें: एप्टेक केस में इनसाइडर ट्रेडिंग मामले में राकेश झुनझुनवाला ने दायर की सहमति याचिका

पिछले महीने कंपनी ने वाहनों की कीमतों में करीब दो फीसदी का इजाफा किया था. जेजुरीकर ने रॉक्सोर के रीलॉन्च से ठीक पहले नॉर्थ अमेरिका में कंपनी में छंटाई पर भी सफाई दी.

उन्होंने कहा, "हमें रॉक्सोर के नए मॉडल के लिए मंजूरी मिल गई है. हम इसके रिलॉन्च पर काम कर रहे हैं और ज्यादातर काम डिजिटल मॉडल पर होगा. इस लिए मानव संसाधन के पुनर्गठन पर विचार करना पडेगा. बीते कुछ महीनों से वहां प्रोडक्शन ठप्प पड़ा था."

महिंद्रा एंड महिंद्रा के डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर और ग्रुप सीएफओ अनिश शाह ने कहा कि कंपनी ने इटली की यूनिट पिनिन्फरीना में भी मावनसंसाधन का पुनर्गठन किया है क्योंकि वहां मांग से अधिक लोग कार्यरत थे.



हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

महिंद्रा रॉक्सोरमहिंद्रा ग्रुपमहिंद्रा कार प्राइसमहिद्रा कार की कीमतेंमहिंद्रा एंड महिंद्राएमएंडएम

ETPrime stories of the day

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’
Strategy

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’

8 mins read
Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle
Aviation

Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle

10 mins read
Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.
Banking

Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.

15 mins read

कंपनी ने बताया है कि कच्चे माल की कीमत बढ़ने से लागत में इजाफा हुआ है. उसकी भरपाई के लिए दाम बढ़ाना जरूरी हो गया है.कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.रोजगार के हालात में आ रहा सुधार, ईपीएफओ के आंकड़ों से मिले संकेत

एनालिटिक्‍स संबंधी जॉब्‍स निकालने वाली कंपन‍ियों में एक्‍सेंचर, एमफेसिस, कग्निजेंट टेक्‍नोलॉजी सॉल्‍यूशन, केपजेमिनी, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, डेल, एचसीएल टेक्‍नोलॉजी और कोलेबरा टेक्‍नोलॉजी प्रमुख हैं.योनो सुपर सेविंग डेज का पहला चरण फरवरी में संपन्‍न हुआ था. इस दौरान भी ग्राहकों को छूट पर 4 दिन के लिए खरीदारी का मौका मिला था. यह 4 फरवरी से 7 फरवरी तक चला था.क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद

महिंद्रा एंड महिंद्रा ने शुक्रवार को संकेत दिए कि कमोडिटी के कीमतों में आई तेजी के चलते आने वाले कुछ महीनों में वह अपने वाहनों की कीमत बढ़ा सकती है.कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.कारें होंगी महंगी, जानिए कितनी बढ़ेंगी कीमतें

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
सबसे सटीक फुटबॉल भविष्यवाणी

पिछले तीन महीनों में वाहनों को बनाने में लगने वाले कच्‍चे माल की कीमतें बढ़ी हैं. इससे वाहनों के दाम 10-15 फीसदी तक बढ़े हैं.

लॉटरी चरम

सैलरी कब अपने स्‍तर पर लौटेंगी, यह आर्थिक गतिविधियों के बहाल होने पर निर्भर करेगा. डेलॉयट के सर्वे में शामिल 75 फीसदी संस्‍थानों ने मौजूदा अनिश्चितता को देखते हुए वेतनवृद्धि में किसी तरह के अनुमान जाहिर करने से इंकार कर दिया.

लाइव लाठी ऑनलाइन ब्रिटेन

कर्मचारियों की छंटनी की खबर ऐसे समय आई जब एक महीने पहले ही हरदयाल प्रसाद ने कंपनी में चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव का पद संभाला है. उन्‍होंने अंतरिम प्रमुख नीरज व्‍यास की जगह ली है.

बकरी ऐप

अच्‍छे ब्रांड से दो साल का एमबीए मार्केट की बदली हुई स्थितियों में काफी फायदेमंद साबित हो सकता है. एमबीए की डिग्री आपको विश्‍वसनीयता हासिल करने में मदद करती है. फिर चाहे आपने किसी भी सेक्‍टर में काम किया हो.

लाइव डीलर लाठी वीडियो

क्या कभी आपने सोचा है कि वैलेंटाइन डे पर पुरुष ज्यादा खर्च करते हैं या महिलाएं ? इस सवाल को लेकर हम आपकी उलझन खत्म कर देते हैं. पुरुष वैलेंटाइन डे सेलिब्रेट करने के लिए औसतन 4000 रुपये खर्च करते हैं. वहीं, महिलाएं इस मौके पर 2000 रुपये खर्च करती हैं.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी