स्लॉट या सोना

स्लॉट या सोना

time:2021-10-16 10:02:18 टीसीएस ने छह महीनों में दूसरी बढ़ाई सैलरी, जानिए क्या है वजह? Views:4591

lovebet प्रोमो कोड कोई जमा नहीं स्लॉट या सोना betway एपीके नया संस्करण डाउनलोड करें,fun88 सहायता,lovebet 360,lovebet ग्रुप लिमिटेड,lovebet स्पोर्ट्स ऐप,lovebetना आईफोन,बैकारेट 999,Baccarat को सट्टेबाजी युक्तियाँ जीतनी चाहिए,बेस्ट फाइव वॉच कलेक्शन,बोनस उबेर खाती है,कैसीनो हिंदी में,शतरंज 64,क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया,क्रिकेट वर्चुअल फोन सिस्टम,एस्पोर्ट्स टाइटल,फ़ुटबॉल खाता खोलने का बोनस,फ्री फुटबॉल ऑड्स एनालिसिस सॉफ्टवेयर,खुश किसान ऐप,बैकारेट लाइन को कैसे समझें,क्या बैकरेट ऑनलाइन पर कोई जुआ है?,ख स्पोर्ट्स,लाइव कैसीनो टेबल गेम,लॉटरी मैं जर्सी,लूडो टैलेंट APK,ऑनलाइन बैजिया मनोरंजन,ऑनलाइन गेम पैसा,मनोरंजन के लिए ऑनलाइन स्लॉट,प्वाइंट रम्मी जापान,पोकर अप,रूले जैकपॉट मशीन डाउनलोड,रम्मी ए 4,रम्मीकल्चर समान खेल,स्लॉट एक मज़ा,खेल लॉटरी सट्टेबाजी नेटवर्क,तीन पत्ती सभी संस्करण,सबसे तेज़ झेंगवांग खाता खोलना,वीडियो कैसीनो खेल,किस वेबसाइट का लाइव कैश रूले सबसे अच्छा है,cricket पर शायरी,और लॉटरी रिजल्ट,क्रिकेट न्यूज़,चेस टिप्स,दस स्कोर रेसिंग,बरसात डीजे,रमी गेम कैसे खेलते है,स्टेटस जोक्स, .टीसीएस ने छह महीनों में दूसरी बढ़ाई सैलरी, जानिए क्या है वजह?

टीसीएस की नई सैलरी 1 अप्रैल से लागू होगी और कंपनी के कर्मचारियों की सैलरी 12-14 फीसदी तक बढ़ जाएगी. आमतौर पर कंपनी 6-8 फीसदी का हाइक देती है.
मुंबई: देश की दिग्गज आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान ग्रोथ देने के चलते साल 2021-22 के लिए कर्मचारियों की सैरली बढ़ाई है.

बीते छह महीनों में यह दूसरा मौका है, जब कंपनी ने अपने कर्मचारियों की इंक्रीमेंट किया है. इससे पिछला इंक्रीमेंट 1 अक्टूबर से लागू किया या था. इससे कंपनी की 4.7 लाख कर्मचारियों की वर्कफोर्स को फायदा होगा.

इसे भी पढ़ें: जानिए दिग्गज शेयरों पर क्या है विश्लेषकों की राय

कंपनी को घोषणा के अनुसार, टीसीएस की नई सैलरी 1 अप्रैल से लागू होगी और कंपनी के कर्मचारियों की सैलरी 12-14 फीसदी तक बढ़ जाएगी. आमतौर पर कंपनी 6-8 फीसदी का हाइक देती है. कंपनी ने कहा कि वह सामान्य तौर पर प्रमोशन का सिलसिला भी जारी रखने वाली है.

कंपनी के प्रवक्ता ने कहा, "हम सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हम सभी क्षेत्रों के कर्मचारियों को अप्रैल 2021 से इंक्रीमेंट देने वाली है. हम कंपनी से जुड़े सभी लोगों का धन्यवाद देना चाहते हैं, जिन्होंने मुश्किल समय में कंपनी का साथ दिया. यह कर्मचारियों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता दिखाता है."


Salary-hike-tcs


उम्मीद है कि 31 मार्च 2021 को खत्म होने वाली तिमाही तक भारतीय आईटी सेक्टर पुरानी ग्रोथ के स्तर तक पहुंच जाएगा. इस सेक्टर को बेहतर मांग और बड़ी डील्स का विशेष लाभ मिल रहा है. आईटी कंपनी एक्सेंचर ने भी अगस्त तक अपने रेवेन्यू ग्रोथ में वृद्धि की उम्मीद जताई है.

एक्सेंचर ने एमडी स्तर के नीचे के अपने कर्मचारियों के लिए एक सप्ताह के बेसिक वेतन जितने बोनस का ऐलान किया है. टीसीएस की अन्य प्रतिद्वंद्वी इंफोसिस ने भी 31 दिसंबर को खत्म हुई तिमाही में अपने कर्मचारियों के लिए सैलरी में वृद्धि, प्रमोशन और स्पेशल बोनस का ऐलान किया था.




हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेजइंफोसिसटीसीएस सैलरी हाइकएक्सेंचरटीसीएसइंक्रीमेंटशेयर बाजारसैलरी हाइक

ETPrime stories of the day

As cryptocurrency bull run gets investors’ attention, smart scams, FOMO and greed are out to get you
Cryptocurrency

As cryptocurrency bull run gets investors’ attention, smart scams, FOMO and greed are out to get you

15 mins read
Ritesh Agarwal has steered Oyo from chaos to clarity. Is that enough to pull off a successful IPO?
Markets

Ritesh Agarwal has steered Oyo from chaos to clarity. Is that enough to pull off a successful IPO?

8 mins read
People vs. banks: Will the common man benefit as the transparency fight enters the last leg?
Banking

People vs. banks: Will the common man benefit as the transparency fight enters the last leg?

12 mins read

नयी दिल्ली, 15 अक्टूबर (भाषा) हाजिर बाजार में एलॉय निर्माताओं की बढ़ती मांग के बीच सटोरियों ने ताजा सौदों की लिवाली की जिससे वायदा कारोबार में शुक्रवार को निकेल वायदा भाव 2.29 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,535.90 रुपये प्रति किलो हो गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में अक्टूबर माह में डिलीवरी होने वाले निकेल अनुबंध का भाव 34.40 रुपये यानी 2.29 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,535.90 रुपये प्रति किलो हो गया। इसमें 1,418 लॉट के लिये सौदे किये गये। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि हाजिर बाजार में एलॉय निर्माताओंअगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.कमजोर मांग के कारण चांदी वायदा कीमतों में गिरावट

कोरोना की महामारी के चलते कई लोगों की नौकरी छूट गई है. कई लोगों की सैलरी घट गई है. कइयों के रोजगार ठप हो गए हैं. नौकरियों के मौकों में बड़ी कमी आई है. नई जॉब के विकल्‍प बेहद सीमित हैं. ऐसे में यह समय अपने कम्‍फर्ट जोन से निकलकर घर में कमाई के रास्‍ते खोजने का है. इसकी शुरुआत आप खुद से यह पूछ कर सकते हैं कि आप क्‍या कर सकते हैं? कैसे कर सकते हैं? कहां कर सकते हैं? कितना कमा सकते हैं? हम आपको घर बैठे कमाई के कुछ विकल्प बता रहे हैं.भारतीय शहरों में करीब 15 फीसदी कंपनियों की फरवरी से अप्रैल 2021 के बीच फ्रेशर्स को भर्ती करने की योजना है. लर्निंग सॉल्‍यूशंस फर्म टीम लीज एडटेक के सर्वे से इसका पता चलता है. टीमलीज एडटेक के सीईओ शांतनु रूज ने कहा कि कोरोना की महामारी के बावजूद कंपनियों के एजेंडे में फ्रेशर्स की हायरिंग है.हाजिर मांग के कारण कच्चा तेल वायदा कीमतों में तेजी

भारतीय शहरों में करीब 15 फीसदी कंपनियों की फरवरी से अप्रैल 2021 के बीच फ्रेशर्स को भर्ती करने की योजना है. लर्निंग सॉल्‍यूशंस फर्म टीम लीज एडटेक के सर्वे से इसका पता चलता है. टीमलीज एडटेक के सीईओ शांतनु रूज ने कहा कि कोरोना की महामारी के बावजूद कंपनियों के एजेंडे में फ्रेशर्स की हायरिंग है.अगले साल मई तक आईटी, आईटीईएस और बीपीओ सेक्‍टर में कर्मचारियों के ऑफिस वापसी का लेवल कोरोना से पहले के स्‍तर के 50 फीसदी तक पहुंच सकता है.लॉजिस्टिक कंपनियों ने कहा, त्योहारी मांग की चुनौतियों से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
lovebet जर्सी की कीमत

आईबीए ने बैंक कर्मचारी और अधिकारी संघों के साथ 11वीं द्विपक्षीय वेतनवृद्धि वार्ता नई सहमति के साथ सम्पन्न होने की बुधवार को घोषणा की.

वह फुटबॉल खेलता है in english

नयी दिल्ली 15 अक्टूबर (भाषा) मजबूत हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया जिससे वायदा कारोबार में शुक्रवार को कच्चे तेल की कीमत 54 रुपये की तेजी के साथ 6,152 रुपये प्रति बैरल हो गयी। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में कच्चातेल के अक्टूबर माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 54 रुपये अथवा 0.89 प्रतिशत की तेजी के साथ 6,152 रुपये प्रति बैरल हो गई जिसमें 4,683 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा अपने सौदों का आकार बढ़ाने के कारण वायदा कारोबार में कच्चा तेल कीमतों में तेजी आई। वैश्विक

बेटा चाहे कितना प्यारा हो

नयी दिल्ली, 15 अक्टूबर (भाषा) कमजोर हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को घटाया जिससे वायदा कारोबार में शुक्रवार को चांदी की कीमत 599 रुपये की गिरावट के साथ 62,956 रुपये प्रति किलो रह गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में चांदी के दिसंबर डिलीवरी वाले वायदा अनुबंध का भाव 599 रुपये यानी 0.94 प्रतिशत गिरावट के साथ 62,956 रुपये प्रति किलो रह गया। इस वायदा अनुबंध में 10,165 लॉट के लिये सौदे किये गये। वैश्विक स्तर पर, न्यूयार्क में चांदी का भाव 1.09 प्रतिशत की गिरावट के साथ 23.22 डालर प्रति औंस रह गया।

इन्डिबेट एक्सचेंज

नयी दिल्ली 15 अक्टूबर (भाषा) मजबूत हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया जिससे वायदा कारोबार में शुक्रवार को कच्चे तेल की कीमत 54 रुपये की तेजी के साथ 6,152 रुपये प्रति बैरल हो गयी। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में कच्चातेल के अक्टूबर माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 54 रुपये अथवा 0.89 प्रतिशत की तेजी के साथ 6,152 रुपये प्रति बैरल हो गई जिसमें 4,683 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा अपने सौदों का आकार बढ़ाने के कारण वायदा कारोबार में कच्चा तेल कीमतों में तेजी आई। वैश्विक

कैटरीना सॉन्ग

दिग्गज आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान ग्रोथ देने के चलते साल 2021-22 के लिए कर्मचारियों की सैरली बढ़ाई है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी