नियम का अर्थ है कानून में

Publishing time:2021-10-22 04:19:44

फ़ुटबॉल एकल मैच नियम नियम का अर्थ है कानून में 188bet मज़ा,casumo सैन क्वेंटिन,lovebet 1. डिवीजन,lovebet ई ट्रांसफर निकासी समय,lovebet पुर्तगाल,lovebet365,बी क्रिकेट बल्ला,बैकारेट आईडी3,बैकारेट-001,सट्टेबाजी संघ,कैसीनो के दिनों में न्यूनतम निकासी,कैसिनोचन2,कॉमोन इंडिया रिव्यू,क्रिकेट पिच की लंबाई मीटर . में,निर्यात तथ्य,मछली पकड़ने की भीड़ APK,फुटबॉल टी शर्ट डिजाइन,क्रिकेट के जीके प्रश्न हिंदी में,जुआ कौशल कैसे सीखें,दशक का आईपीएल xi,जंगल रम्मी मोबाइल,लाइव कैसीनो गेम ऐप,लॉटरी एजेंसी,पीसी के लिए लूडो,एनवाई लॉटरी सरकार,ऑनलाइन जुआ साइटें,ऑनलाइन पोकर यूएसए,परिमच नियम,पोकर समाचार भारत,प्रतिष्ठित फुटबॉल कैश नेटवर्क,नियम उपयोगितावाद,रम्मीकल्चर सीईओ,स्लॉट मशीन समस्या निवारण,स्पोर्ट्स बुक्स 2021,स्पोर्ट्सबुक यूएसए,टेक्सास होल्डम विविधताएं,आपने खेल रद्द कर दिया,कौन सा बैकारेट गेम बेहतर है,शून्य निर्यात,ऑनलाइन जुआ time,क्रिकेट upcoming,गोवा पिन कोड,तीन पत्ती टाइम,बकरा लड़ाई,बैकारेट file,सबसे प्रभावी बैकरेट फ्लैट सट्टेबाजी विधि, .एसबीआई इस साल 14,000 लोगों की भर्ती करेगा

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

एसबीआई इस साल 14,000 लोगों की भर्ती करेगा

अभी बैंक में 2.5 लाख के करीब कर्मचारी हैं.
नई दिल्ली : भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) की इस वर्ष 14,000 लोगों को भर्ती करने की योजना है. अभी बैंक में 2.5 लाख के करीब कर्मचारी हैं. इसके साथ ही देश के इस सबसे बड़े बैंक ने कहा कि वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्‍कीम (वीआरएस) लागत में कटौती करने के लिए नहीं है.

बैंक ने अपने कर्मचारियों के लिए वॉलेंटरी रिटायरमेंट स्‍कीम तैयार की है. इसके दायरे में करीब 30,190 कर्मचारी आ सकते हैं. बैंक के बयान में उसके प्रवक्ता ने कहा है कि बैंक की प्रस्तावित वीआरएस लागत घटाने के लिए नहीं है.

बैंक ने बताया, ''बैंक हमेशा से कर्मचारियों के प्रति दोस्ताना नजरिया रखता आया है और वह अपने कारोबार का विस्तार कर रहा है. इसके लिए लोगों की आवश्यकता होगी. यह इस बात से साबित होता है कि बैंक की इस साल 14,000 से अधिक कर्मचारियों की नियुक्ति करने की योजना है.''

इसे भी पढ़ें : रेलवे में 1.40 लाख पदों पर भर्ती के लिए 15 दिसंबर से शुरू होगी परीक्षा

उसने कहा कि स्टेट बैंक के वर्तमान में 2.5 लाख के करीब कर्मचारी हैं. बैंक अपने कर्मचारियों की जरूरतों को पूरा करने और उनके जीवनकाल में मदद के लिए हमेशा आगे रहा है.

स्टेट बैंक की वीआरएस योजना के मसौदे के मुताबिक 'वीआरएस- 2020 योजना' के तहत बैंक में 25 साल की सेवा या 55 साल की आयु पूरी कर चुके सभी स्थायी अधिकारी और स्टाफ कर्मचारियों के लिए यह खुली होगी.

इसे भी पढ़ें : आईटी पेशेवरों के लिए खुशखबरी, कंपनियों में एक लाख से ज्‍यादा नौकरी के मौके

बैंक ने कहा है कि वह अपने कर्मचारियों का बहुत सम्‍मान करता है और वे उसके लिए मूल्‍यवान हैं. साथ ही वह नए युवाओं को भी अधिक कुशल बनाना चाहता है. वह इकलौता बैंक है जिसने सरकार की नेशनल एप्रेंटिसशिप स्‍कीम के तहत एप्रेंसिटिसेज की भर्ती की है.

इससे पहले कांग्रेस के नेता पी. चिदंबरम ने बैंक की प्रस्तावित वीआरएस की आलोचना की थी. उन्होंने कहा था कि मौजूदा संकट के दौर में यदि देश का सबसे बड़ा बैंक नौकरियों में कटौती करता है तो इसका अंदाजा लगाया जा सकता है कि अन्य बड़े नियोक्ता और एमएसएमई क्या कर रहे होंगे.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

एसबीआईन‍ियुक्तिभारतीय स्‍टेट बैंकभर्तीवीआरएस

ETPrime stories of the day

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing
Artificial intelligence

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing

11 mins read
Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game
Artificial intelligence

Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game

15 mins read
MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?
Investing

MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?

10 mins read
एसबीआई इस साल 14,000 लोगों की भर्ती करेगा

2020 के पहले छह महीनों में केपजेमिनी ने 9,500 लोगों की भर्ती की है. सेकेंड हाफ में उसकी 13,500 लोगों को रिक्रूट करने की योजना है.एनालिटिक्‍स संबंधी जॉब्‍स निकालने वाली कंपन‍ियों में एक्‍सेंचर, एमफेसिस, कग्निजेंट टेक्‍नोलॉजी सॉल्‍यूशन, केपजेमिनी, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, डेल, एचसीएल टेक्‍नोलॉजी और कोलेबरा टेक्‍नोलॉजी प्रमुख हैं.साल 2020 में कार और बाइक्स ने मचाई धूम, जानिए क्या है कीमत

एओन की बुधवार को जारी सर्वे रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में काम करने वाली कंपनियों ने कोविड-19 से जुड़ी चुनौतियों के बावजूद लचीलारुख दिखाया है.रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण अब तक परीक्षा आयोजित नहीं कराई जा सकी थी.टर्म इंश्‍योरेंस पॉलिसी हो सकती है महंगी, यह है वजह

रीइंश्‍योरेंस कंपनियों के रेट जीवन प्रत्‍याशा यानी लाइफ एक्‍सपेक्‍टेंसी पर आधारित होते हैं. यह एक लंबी अवधि का ट्रेंड होता है.एनालिटिक्‍स संबंधी जॉब्‍स निकालने वाली कंपन‍ियों में एक्‍सेंचर, एमफेसिस, कग्निजेंट टेक्‍नोलॉजी सॉल्‍यूशन, केपजेमिनी, इंफोसिस, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, डेल, एचसीएल टेक्‍नोलॉजी और कोलेबरा टेक्‍नोलॉजी प्रमुख हैं.निसान की कारें होंगी महंगी, जनवरी से 5% तक बढ़ेंगे दाम

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


वाइल्डज़ लेवल अप बोनस
ऑनलाइन जुआ धोखाधड़ी
लॉटरी धनबाद
पैसे कमाने के लिए ऑनलाइन जुआ कैसे स्थापित करें
Baccarat के मंच क्या हैं
क्रिकेट 19 एंड्रॉइड
एक्स क्रिकेट
baccarat id3 चाकू की समीक्षा
स्पोर्ट्स ट्रैक सूट
लूडो वीडियो डाउनलोड
परिमच नेट वर्थ
ऑनलाइन रेत कैसीनो मकाऊ
लॉटरी मुंबई
क्रिकेट विश्व कप 2023
स्लॉट 21
शतरंज 015 संदेश
कैलिफ़ोर्निया में स्पोर्ट्सबुक
एनएच लॉटरी जीतने वाली संख्या
casumo एरफाह्रुंगेन फोरम
टेक्सास होल्डम मानोस
ऑनलाइन जुआ lyrics
परिवार quotes in marathi
गन्ने से खुश किसान
खेल 70s
रमी मोबाइल टूल
casumo समूह
lovebet 388